Tuesday 16th of July 2024

UGC NET 2024 Cancelled: यूजीसी नेट परीक्षा रद्द, CBI करेगी मामले की जांच, अब दोबारा से होगा Exam!

Reported by: PTC Bharat Desk  |  Edited by: Deepak Kumar  |  June 20th 2024 08:48 AM  |  Updated: June 20th 2024 09:26 AM

UGC NET 2024 Cancelled: यूजीसी नेट परीक्षा रद्द, CBI करेगी मामले की जांच, अब दोबारा से होगा Exam!

ब्यूरोः राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी की ओर से मंगलवार को आयोजित यूजीसी-नेट जून 2024 परीक्षा में गड़बड़ी होने पर रद्द कर दिया गया है। शिक्षा मंत्रालय ने मामले की गहन जांच के लिए मामले को केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) को सौंपी है। 

राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA) ने 18 जून, 2024 को देश के विभिन्न शहरों में दो पालियों में ओएमआरमोड में यूजीसी-नेट जून 2024 परीक्षा आयोजित की गई थी और 317 शहरों में 9 लाख से अधिक उम्मीदवारों ने इसमें भाग लिया था। गृह मंत्रालय के तहत भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र (I4C) से मिली जानकारी के आधार पर परीक्षा रद्द की गई है, जिसमें प्रथम दृष्टया संकेत मिलता है कि परीक्षा की अखंडता से समझौता किया गया है।

शिक्षा मंत्रालय की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि एक नई परीक्षा आयोजित की जाएगी, जिसके लिए अलग से जानकारी साझा की जाएगी। साथ ही, मामले की गहन जांच के लिए केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) को सौंपा जा रहा है और दोबारा परीक्षा के बारे में जानकारी अलग से साझा की जाएगी।

बता दें बिहार जैसे राज्यों में प्रश्नपत्र लीक होने और प्रतिष्ठित नीट परीक्षा में अन्य अनियमितताओं के आरोपों के बीच नेट परीक्षा रद्द कर दी गई थी। इन आरोपों के कारण कई शहरों में विरोध प्रदर्शन हुए और कई उच्च न्यायालयों के साथ-साथ सर्वोच्च न्यायालय में भी याचिकाएं दायर की गईं।

यूजी-नेट परीक्षा को लेकर विपक्ष बनाम सरकार

यूजीसी-नेट परीक्षा रद्द होने के बाद विपक्ष ने सरकार पर हमले तेज कर दिए हैं। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि परीक्षा रद्द होना मोदी सरकार के “अहंकार” की हार है, जिसके कारण उन्होंने “हमारे युवाओं के भविष्य को कुचलने का घृणित प्रयास” किया।

अखिलेश यादव ने एक्स पर पोस्ट करके कहा कि और अब गड़बड़ी की ख़बर के बाद UGC- NET की परीक्षा भी रद्द कर दी गयी है। भाजपा के राज में पेपर माफ़िया एक के बाद एक, हर एग्ज़ाम में धांधली कर रहा है। ये देश के ख़िलाफ़ किसी की बड़ी साज़िश भी हो सकती है। 

गहरी बात समझिए

  • पुलिस भर्ती की परीक्षा का पेपर लीक होगा तो क़ानून-व्यवस्था नहीं सुधरेगी। जिससे देश-प्रदेश में अशांति और अस्थिरता बनी रहेगी।
  • ⁠NEET की परीक्षा में घपला होगा तो ईमानदार लोग डॉक्टर नहीं बन पाएंगे और देश के लोगों के इलाज के लिए भविष्य में डॉक्टरों की कमी और बढ़ जाएगी और बेईमान लोग, जनता के जीवन के लिए ख़तरा बन जाएंगे। 
  • UGC-NET परीक्षा न होने से, पहले से शिक्षकों की जो कमी चली आ रही है, उसमें और भी ज़्यादा इज़ाफ़ा होगा। शिक्षकों की कमी से देश के मानसिक विकास में बाधा उत्पन्न होगी, जो कालांतर में देश के लिए बेहद घातक साबित होगी।

आगे उन्होंने कहा कि इन सबसे प्रशासन के साथ-साथ स्वास्थ्य और शिक्षा व्यवस्था चौपट हो जाएगी। ये हमारे देश के शासन-प्रशासन व देश के मानव संसाधन के विरूद्ध कोई बहुत बड़ा षड्यंत्र भी हो सकता है, जिसके दूरगामी नकारात्मक परिणाम निकलेंगे। इसीलिए कोर्ट की निगरानी में इसकी कठोर जाँच हो और दोषियों को कठोरतम सज़ा दी जाए, और कोई भी अपराधी छोड़ा न जाए, फिर वो चाहे कितना भी बड़ा क्यों न हो या फिर उसके सिर पर सत्ता का हाथ ही क्यों न हो। लोग कह रहे हैं जो भ्रष्ट लोग कोरोना के वैक्सीन में चुनावी चंदे के नाम पर पीछे से करोड़ों रूपये खा सकते हैं, वो भला परीक्षा-प्रणाली को क्या छोड़ेंगे। 

PTC NETWORK
© 2024 PTC Bharat. All Rights Reserved.
Powered by PTC Network