Sunday 16th of June 2024

भाजपा विधायक नूपुर शर्मा की हत्या की साजिश रचने के आरोप में सूरत में मौलवी गिरफ्तार

Written by  Naveen Negi   |  May 05th 2024 12:47 PM  |  Updated: May 05th 2024 12:47 PM

भाजपा विधायक नूपुर शर्मा की हत्या की साजिश रचने के आरोप में सूरत में मौलवी गिरफ्तार

गुजरात: सूरत क्राइम ब्रांच को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। टीम ने हिंदूवादी और भाजपा नेताओं को जान से मारने की धमकी देने और उन्हें धमकाने का षड्यंत्र रचने वाले आरोपी मोहम्मद शोहेल उर्फ मौलवी अबूबकर टीमोल (27 साल) को सूरत के कठौर इलाके से गिरफ्तार किया है।

क्राइम ब्रांच का आरोप है कि अबूबकर मौलवी पूर्व भाजपा नेता नूपुर शर्मा, भाजपा विधायक टी.राजा सिंह, हिंदूवादी नेता उपदेश राणा को जान मारने का षडयंत्र रच रहा था। उसके मोबाइल फोन की चैट से कई हैरान करने वाले खुलासे हुए हैं।

मौलवी ने 1 करोड़ की सुपारी रुपये की ली थी सुपारी

पुलिस के अनुसार, आरोपी मौलवी पाकिस्तान और नेपाल सहित कई देशों में रहने वाले कट्टरपंथियों के साथ संपर्क था। उसके मोबाइल फोन से हिंदू सनातन संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपदेश राणा को मारने के लिए 1 करोड़ की सुपारी देने और पड़ोसी मुल्कों से हथियार मंगवाने के चैट भी मिले हैं।

मौलवी ने उपदेश राणा को पाकिस्तान सहित अन्य देशों के कट्टरपंथी व्हाट्सऐप ग्रुप में जोड़कर जान से मारने की धमकी दी थी। साथ की आरोपी ने भाजपा की निलंबित नेता नूपुर शर्मा, भाजपा विधायक टी. राजा सिंह को भी मारने और धमकाने का षड्यंत्र रचा था।

मौलवी की गिरफ्तारी पर पुलिस ने क्या कहा?

सूरत के पुलिस कमिश्नर अनुपम सिंह गहलोत ने कहा, "सूरत सिटी क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि एक शख्स देश विरोधी गतिविधियों में संलिप्त है और उसे सर्विलांस रखकर सूरत चौक बाजार इलाके से हिरासत में लिया गया और उसका मोबाइल जब्त कर लिया गया। वह पड़ोसी मुल्क के लोगों से चैट कर रहा था। उसका सबसे पहला टारगेट हिंदू सनातन संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपदेश राणा थे।"

कैसे पकड़ में आया मौलवी? 

क्राइम ब्रांच की पकड़ में आया मौलवी सूरत ग्रामीण के कामरेज तहसील अंतर्गत आने वाले कठौर गांव का रहने वाला है। क्राइम ब्रांच की टीम ने बताया कि वह एक धागा बनाने वाली कंपनी में काम करता है और मुस्लिम बच्चों को धार्मिक ज्ञान भी देता है, इसलिए उसे मौलवी कहते हैं। सूरत क्राइम ब्रांच को इसकी कट्टरपंथी मानसिकता को लेकर कुछ दिन पहले भनक लगी थी। 

मौलवी पिछले डेढ़ साल से सोशल मीडिया के जरिए पड़ोसी मुल्कों के कट्टरपंथियों के संपर्क में था। वह कई व्हाट्सऐप ग्रुप में धार्मिक उन्माद से संबंधित पोस्ट कर रहा था और हिंदूवादी व भाजपा नेताओं को धमकाने के लिए षड्यंत्र रच रहा था। 

उपदेश राणा ने मामले में क्या कहा?

हिंदू सनातन संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपदेश राणा ने गिरफ्तार आरोपी ने एक करोड़ रुपए की सुपारी देने की बात स्वीकारी है, जिस षड्यंत्र को गुजरात पुलिस सूरत पुलिस ने पर्दाफाश किया है। उन्हें पहले भी बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी। इस मामले में करीबन 25 से 30 एफआईआर दर्ज है।

राणा ने कहा, "पुलिस ने बहुत अच्छा काम किया और इनका पूरा ग्रुप है, जिनकी हकीकत सामने आनी चाहिए। मैं इनको आतंकी कहूंगा जिनकी जगह सिर्फ जेल है।"

PTC NETWORK
© 2024 PTC Bharat. All Rights Reserved.
Powered by PTC Network